मघा नक्षत्र : मघा नक्षत्र में जन्मे लोग तथा पुर ुष और स्त्री जातक (Magha Nakshatra: Magha Nakshatra Me Janme Log Tatha Purush Aur Stri Jatak)

Magha Nakshatra: Personas nacidas bajo la influencia de Magha Nakshatra, hombres y mujeres astrológicos

El universo siempre ha despertado nuestro interés y curiosidad, y una manera de entenderlo mejor es a través de la astrología. En esta ocasión, nos sumergiremos en el fascinante estudio de Magha Nakshatra, una de las 27 constelaciones consideradas en el sistema de astrología vedica. Magha Nakshatra tiene una gran influencia en la personalidad y el destino de aquellos que nacen bajo su dominio.

En este artículo, exploraremos las características únicas de las personas que han nacido bajo la influencia de Magha Nakshatra y cómo esto afecta tanto a hombres como mujeres. Descubriremos sus rasgos distintivos, fortalezas y debilidades, así como las profesiones más adecuadas para ellos. Además, exploraremos la compatibilidad de pareja y consejos para llevar una vida plena y feliz para aquellos que son guiados por esta poderosa energía cósmica.

Ya sea que estés buscando profundizar en tu propio conocimiento astrológico o simplemente estés fascinado por el misterioso mundo de las constelaciones, este artículo te proporcionará información valiosa y sorprendente sobre Magha Nakshatra. ¡Prepárate para desvelar los secretos y las potencialidades de estas personas únicas en el universo astrológico! Comencemos nuestro viaje hacia la comprensión de Magha Nakshatra y las vidas que se ven envueltas en su esplendoroso resplandor.

वैदिक ज्योतिष में कुल “27 नक्षत्र“ है जिनमें से एक है “No नक्षत्र“(Magha Nakshatra)। यह आकाश मंडल तथा 27 नक्षत्रों No अट्ठाईसवें स्थान पर है। इस नक्षत्र का विस्तार राशि चक्र 2 “12000″“13320” अंश तक है। मघा नक्षत्र में 6 no lo logré 5 होते है। इस नक्षत्र 5 No 6 Más información ्र के 2 की चमक बहुत ही कम है। आज हम आपको मघा नक्षत्र में जन्में लोग तथा पुरुष और स्त्री जातक की कुछ मुख्य विशेषताएँ Mi opinión:

मघा नक्षत्र को “तामसिक स्त्रीनक्षत्र है। Sí “चंद्र देव” 27 de septiembre de 2019 “मघा “का अर्थ”No या बड़ा” मघा नक्षत्र में 5 तारें छड़ी जैसी प्रतीत होती ह ै वहीँ 6 horas antes del final

La respuesta es:

  • नक्षत्र – “मघा”
  • मघा नक्षत्र देवता – “पितर”
  • मघा नक्षत्र स्वामी – “केतु”
  • मघा राशि स्वामी – “सूर्य”
  • मघा नक्षत्र राशि – “सिंह”
  • मघा नक्षत्र नाड़ी – “अन्त्य”
  • मघा नक्षत्र योनि – “मूषक”
  • मघा नक्षत्र वश्य – “चतुष्पद”
  • मघा नक्षत्र स्वभाव – “उग्र”
  • मघा नक्षत्र महावैर – “बिडाल”
  • मघा नक्षत्र गण – “राक्षस”
  • मघा नक्षत्र तत्व – “अग्नि”
  • मघा नक्षत्र पंचशला वेध – “श्रवण”

इनका आर्थिक और सामाजिक स्तर अच्छा होने के कारण इनके बहुत से मित्र और शत्रु होते है। इनके लिए धन, जन का सुख उत्तम होता है। ये जातक अपनी माता के साथ यज्ञादि कर्म तथा पितृ कार्य संपन्न करते है। पिता का सुख अल्प होता है। जातक उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाला, गुस्से 2 ा जीवनसाथी और कठोर हृदय वाला होता है। ऋषि पराशर

La respuesta es:

Título: Texto Idioma: स्वधानम:।
प्रपितामहेभ्य स्वधायिभ्य स्वधानम: 2 तरोSमीमदन्त:
पितरोतितृपन्त पितर:शुन्धव्म । पितरेभ्ये नम:।।

मघा नक्षत्र में चार चरणें होती है। Mi nombre es:

1. Por ejemplo:मंगल देव” है तथा इस चरण पर , No No का प्रभाव ज्यादा रहता है। इस चरण के जातक साहसिक, क्रियाशील और नेतृत्व करन े वाले होते है। इस चरण के जातक का मध्यम कद और बड़ा सिर होता है। Más información एक विख्यात न्यायाधीश होते है। ये अगर किसी से भी दुश्मनी कर लें तो उसे माफी ं करते।

2. मघा नक्षत्र द्वितीय: ''शुक्र देव” इस चरण पर , सूर्य ग्रह का प्रभाव होता है। इस चरण के जातक का चौड़ा ललाट, छोटी आँखें और ऊँची नाक होती है। इस चरण के जातकों के पास सत्ता और अधिकार होते हु ए भी ये कूटनीति से सफलता हासिल करते है। ये कूटनीतिज्ञ, राजनीतिज्ञ, प्रशासक और प्रबंधक होते है।

3. Por ejemplo: इस चरण के स्वामी “बुध ग्रह” इस चरण पर , No का प्रभाव होता है। इस चरण के जातक उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाले बु द्धिजीवी होते है। इस चरण के जातक का गोल गाल, ऊँची नाक और शरीर पर घन ा रोम होता है। इस चरण के जातक मेधावी, दोस्तों के साथ समय बितान े वाला और भोजन प्रेमी होता है।

4. Por ejemplo: इस चरण के स्वामी “चन्द्रमा” इस चरण पर , चन्द्रमा का प्रभाव होता है। इस चरण के जातक का तैलीय त्वचा, गोरा रंग और सुन्द र आँखे होती है। इस चरण के जातकों में भावुकता देखने को मिलती है ये कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले ही अपने लगाव के तरफ झुक जाते है। अधिकार प्राप्त जातकों के लिए मघा का चतुर्थ चरण शुभ नहीं होता।

आइये जानते है, मघा नक्षत्र के पुरुष और स्त्री जातकों के बारे म ें:

मघा नक्षत्र esto es:

इस नक्षत्र के जातक मध्यम कद के भोले – भाले इंसान होते है। इनकी नाक ऊँची तथा इनके कंधे और हाथ पर मस्सा होत ा है। ये ईश्वर से डरने वाले, बड़े – बुजुर्गों का सम्मा न करने वाले, विज्ञान का ज्ञाता तथा सुखी जीवन जेी ना वाला होता है। ये विचारवान, दूसरों को कष्ट नहीं पहुँचाने वाला Más información ये गरम मिजाजी होते है और झूठ सुनना पसंद नहीं कर ते। इन्हें अपने व्यावसाय में परिवर्तन करना पड़ता है। ये रतौंधी रोग से पीड़ित हो सकते है। इनका दाम्पत्य जीवन सुखद होता है।

मघा नक्षत्र के स्त्री:

इस नक्षत्र की स्त्री जातिकाओं के सारे गुण और दो ष पुरुष जातक के समान ही होते है। वैदिे वाली, निर्भीक और सुन्दर होती है। यदि इनके जन्म कुंडली में शनि और चन्द्रमा युति ब नाए हुए हो तो इनके लम्बे काले बाल होते है। ये ईश्वर से डरने वाली और ज्ञानी होती है। इन्हें क्रोध बहुत आता है। इनके कारण परिवार में मतभेद होता है।

preguntas frecuentes

1. ¿Qué está pasando?

मघा नक्षत्र No देवता – है।

2. ¿Cómo es eso?

मघा नक्षत्र स्वामी ग्रह – है।

3. ¿Qué es?

मघा नक्षत्र के लोगों का भाग्योदय – 28 वर्ष में होता है।

4. ¿Cómo es?

मघा नक्षत्र की शुभ दिशा – पश्चिम है।

5. ¿Qué hay de ti?

मघा नक्षत्र राक्षस गण है।

6. ¿Qué está pasando?

मघा नक्षत्र योनि – मूषक है।

7. ¿Qué está pasando?

मघा नक्षत्र वश्य –चतुष्पद है।

Error 403 The request cannot be completed because you have exceeded your quota. : quotaExceeded

Deja un comentario

¡Contenido premium bloqueado!

Desbloquear Contenido
close-link