Gussa Kam karne Ka Achuk Mantra

¿Estás buscando una manera segura y efectiva de calmar tu enojo? ¡Pues has llegado al lugar correcto! En este artículo, te revelaremos el achuk mantra, una poderosa herramienta para reducir el gussa (enojo) y encontrar la paz interior. Si estás cansado de sentirte frustrado y quieres aprender cómo controlar tus emociones de manera positiva, sigue leyendo. ¡Descubre el secreto para mantener la calma y disfrutar de una vida más tranquila y feliz!¡Vamos allá!

गुस्से की मुख्य वजह घमंड होता है। अगर आपको अपने गुस्से पर काबू करना है, तो उसके लि ए आपको सबसे पहले अपने घमंड यानी कि अहंकार को अपन े भीतर से निकाल फेंकना होगा। कई व्यक्ति ऐसे भी है जिनके मन में क्रोध का अर्थ ही कुछ और होता है।

जैसे कि कई लोग सोचते है कि यदि मैं क्रोध को त्या ग कर दूंगा तो कही मेरा रौब तो कम नहीं हो जाएगा, या फिर दूसरों को उनके गलती का अहसास कराने के लिए भी गुस्सा करना जरूरी है या फिर यदि कोई हमसे सही ढंग से बात Más información ह। यह गुस्सा ही दुख की वजह है और ये सारी चीजें ही सह ी काम को भी गलत में परिवर्तित कर देता है।

गुस्से से होने वाले:

कहा जाता है कि यदि कोई इंसान ज्यादा और लगातार क ्रोध करता रहता है तो उसके माथे में दर्द जैसी समस ा याएं जैसे कि माइग्रेन की बीमारी होने का खतरा ब ढ ़ जाता है। क्योंकि जब क्रोध करता तो सिर में में की की की की यही वजह है यह यह ुस्सा अवसादग्रस्त अवसादग्रस्त अवसादग्रस्त भी भी.ह॥ । क्रोध व्यक्ति को जुर्म की दुनिया में ले जाता है ।

इसके अलावा जो ज्यादा गुस्सा करते है उन्हें हाई ब्लड प्रेशर होने का खतरा बना रहता है। यही नहीं कोई व्यक्ति ज्यादा गुस्सा करते है उन् हें डायबिटीज की भी बीमारी हो सकती है। गुस्सा करने वाले व्यक्तियों के फेफड़ों की काम करने की क्षमता पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। Más información ्सा आने से सांस लेने में भी परेशानी होती है।

गुस्सा किस कारण आता है ?

यदि हम बात करें कि आखिर हमें गुस्सा किस कारण आत ा है तो जानकारी के अनुसार अहम् पर चोट पड़ने से हम ें गुस्सा आता है। No logré hacerlo, pero no es un problema. ा है। यदि आप अपने जीवन को खुशहाल बनाना ही चाहते है तो उसके लिए सबसे पहले तो आपको अपने भीतर बैठे अहंकार को निकाल फेंकना है।

आइये ग्रहों के अनुसार समझते है गुस्से के कारण क Todo lo mejor ::

  • ज्योतिष के अनुसार गुस्से की मुख्य वजह राहु, शनि , मंगल, सूर्य, चंद्रमा इत्यादि होते है। सूर्य में यदि सहनशक्ति है, तो वही पर मंगल में आक ्रामकता और देखा जाए तो चंद्रमा शारीरिक और भावना त्मक आवश्यकताओं का प्रतीक है।
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि किसी व्यक्ति के जन्म कुंडली में चंद्रमा, सूर्य तथा मंगल ग्रह एक दूजे के साथ यदि किसी भी तरह से दृष्टि संबंध बनाए तो उस व्यक्ति के भीतर गुस्सा काफी ज्यादा रहता.ह॥. ।
  • इसके साथ ही मंगल शनि की युति गुस्से को जींद यान ी की हट में परिवर्तित कर देती है।
  • वही पर, राहु का लग्न से तीसरे स्थान पर होने से जा तक के घमंड की वजह – अपने आप को सबसे बड़ा मानना ​​​​​​होत ा है जिससे व्यक्ति को कुछ ज्यादा ही गुस्सा आने. ला ता है।
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल को लड़ाई, अग्नि, क्रोध, वाद विवाद, झगड़ा, एक्सीडेंट, हथियार, दुर् घटना, विद्या
  • वही पर राहु को आकस्मिक घटनाएं, तामसिकता, नकारात ्मक ऊर्जा, विचार, आकस्मिकता, छल, शत्रु, बुरी आदतो ं और षड्यंत्र का कारक ग्रह कहा जाता है।
  • गीता में प्भु श्ी कृष्ण के अनुसार इंसान को अपने गुस्से पप काबू खना काफी महत्वपू्ण होता है है है है है है। ।ा काफी ऐसा इसलिए क्योंकि गुस्से से गरलफहमी पै दे बुद्धि खत्म होती है और जब व्यक ्ति के पास बुद् धि ही नहीं रहेगा तो व्यक् ति का वि ाश होना निश्चि त है।

गुस्सा para esto:

यदि आप भी प्रतिदिन “ॐ सों सोमाय नमः No ॐ भौम भौमाय नमः Más información पर कंट्रोल कर सकते हैं।

तो अब तक हमने जाना कि राहु और मंगल का योग किस तरह की परेशानियों को जन्म देती है। यदि आपके कुंडली में भी मंगल और राहु के योग की वज ह से परेशानियां पैदा हो रही है तो अब हम आपको इन.स म स्याओं से छुटकारा पाने के उपाय की जानकारी भी द ी Mi nombre es:

मंगल और राहु के योग कथ es:

  • मँ ं को रोकने के लिएआपको अंग अंगारकाय नमः का नियम के अनुसार जाप करना चाहिए।
  • हनुमान चालीसा नियमित रूप से पाठ करना होगा।
  • आपको हर शनिवार को साबुन और उड़द का दान करना चाह िए।
  • आपको हर मंगलवार को कम से कम आठ मीठी रोटी बना कर क ुत्तों या फिर कौवों को खिलानी चाहिए।
  • आपको हमेशा चांदी के गिलास में ही पानी या फिर दू ध इत्यादि पीना चाहिए।
  • अपने से सभी बड़ो को प्रतिदिन सुबह पैर छूकर प्रण Más información े प्राप्त हुई आशीर्वाद से जल्द ही गुस्से पर काब ॥ किया जा सकता है।
  • Más información ।
  • कहा जाता है कि अभिमंत्रित मंगल यंत्र को यदि पास रखा जाए तो जल्द से जल्द लाभ होता है।
  • यदि आप सोमवार को चांदी का बेजोड़ छल्ला या कड़ा पहनते है तो आपके गुस्से में कमी आ सकती है।
  • आपको हर दिन अपने माथे पर सफेद चंदन की तिलक लगान ा चाहिए क्योंकि इससे भी आपको काफी लाभ प्राप्त.हो. गा।

La respuesta es:

क्या आप जानते है कि आपका सबसे बड़ा दुश्मन कौन ह ै यदि नही तो आपको बता दूं कि आपका सबसे बड़ा दुश्म न और कोई भी नहीं – खुद आपका गुस्सा है। जी हां अपने क्रोध में आकर कोई भी मनुष्य बड़े से बड़े हानियां कर बैठता है।

Más información होती ही है साथ ही में व्यक्ति को रिश्तों और धन दो नों से ही हाथ धोना पड़ सकता है। लेकिन आपको अधिक परेशान होने की जरूरत नहीं है क् योंकि गुस्से को शांत करने के लिए भी वास्तु शास् त्र के अनुसार उपाय है जिन्हें आजमाकर आप अपने गु स ्से पर काबू कर सकते हैं।

Más información :

  • वास्तु शास्त्र के मुताबिक आपको अपने घर को अच्छ तरह से साफ सुथरा रखने की जरूरत होगी क्योंकि गं दगी गुस्से को उकसाने का कार्य करती है।
  • आपको प्रतिदिन शाम होते ही अपने घर में बत्ती, धू प या अगरबत्ती को जलाना चाहिए। इसके साथ ही आपको अपने घर के पूर्व दिशा में कोई 2 ी भारी चीज नहीं रखना चाहिए।
  • वास्तु शास्त्र के मुताबिक यदि आप भी अपने गुस्स े पर काबू पाना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको हर दिन सूर्य नारायण को जल चढ़ाना चाहिए। इससे मन में सिर्फ अच्छी बातें ही आती है और गुस् से जैसी नकारात्मक ऊर्जा आपसे दूर ही रहेगी।

वास्तु शास्त्र के मुताबिक जिन व्यक्तियों को क ्रोध अधिक आता है उन्हें अपने घर में लाल रंग का इस ्तेमाल नहीं करना चाहिए। कहने का मतलब यह है कि आपको अपने घर की किसी भी चीज में जैसे कि चादर, पर्दे और पेंट इत्यादि में लाल रंग का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

preguntas frecuentes

1. मुझे गुस्सा बहुत आता है क्या घर में लाल रंग का इस्तेमाल कर सकते हैं ?

यदि आपको गुस्सा आता है तो आप अपने घर में लाल रंग का इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें।

2. मंगल और राहु के योग की वजह से होने वाली समस्या Qué tengo ¿Ya terminaste?

मँ ं को रोकने के लिएआपको अंग अंगारकाय नमः का नियम के अनुसार जाप करना चाहिए।

3. ¿Qué es?

गुस्सा कम करने का अचूक मंत्र है –ॐ सों सोमाय नमःNoॐ भौम भौमाय नमः

Error 403 The request cannot be completed because you have exceeded your quota. : quotaExceeded

Deja un comentario

¡Contenido premium bloqueado!

Desbloquear Contenido
close-link